Home » देश, मुख्य समाचार, राज्य » नहीं मिला खजाना!

नहीं मिला खजाना!

 देश की अर्थव्यवस्था सुधारने में मदद की महत्वाकांक्षा के साथ 1 हजार टन सोने के खजाने की तलाश में उन्नाव के डौंडियाखेड़ा स्थित राजा राव राम बख्श सिंह के किले की खुदाई बुधवार को 27वें दिन फिर शुरू हुई। अब तक करीब 85 फीसदी खुदाई पूरी हो चुकी है लेकिन कामयाबी अब भी ख्वाब-ख्याल की बात बनी हुई है।

किले के एक ब्लॉक की खुदाई पूरी हो चुकी है जबकि दूसरे ब्लॉक की करीब 75 फीसदी खुदाई पूरी हो जाने के बावजूद खजाने का कोई निशान नहीं मिला है। माना जा रहा है कि दूसरे ब्लॉक का काम पूरा होने पर खुदाई बंद भी हो सकती है।

उपजिलाधिकारी विजय शंकर दुबे ने बताया कि गत 18 अक्टूबर को शुरू हुई खुदाई का काम बुधवार को फिर शुरू हुआ। उन्होंने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की निगरानी में हो रही खुदाई के लिए किले को 2 खंडों में बांटा गया था। एक खंड में भूतल मिल जाने के कारण काम बंद कर दिया गया जबकि दूसरे ब्लॉक की अब तक 5.10 मीटर खुदाई पूरी हो चुकी है।

उन्होंने बताया कि दूसरे ब्लॉक की खुदाई पूरी होने को है लेकिन एएसआई को बुधवार को तक कोई भी ऐसी बड़ी सफलता हाथ नहीं लगी है जिसे उसके अधिकारी पुरातात्विक महत्व के होने का दावा कर सकें। दुबे ने बताया कि अगर पहले ब्लॉक को आधार मानें तो दूसरे ब्लॉक की खुदाई बुधवार को पूरी हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि साधु शोभन सरकार के दावे पर एएसआई द्वारा राजा राव राम बख्श सिंह के किले में की गई जांच में ‘गैर चुंबकीय’ तत्व पाए जाने के बाद गत 18 अक्टूबर को खुदाई का काम शुरू किया गया था।

Leave a Reply

© 2013 lucknowsatta.com · RSS · Designed by TIV Labs